Home > my beautiful days (Page 2)

Sl.num.18(1) the end. Mishra’s lover

sl.num.18(1) ''THE END'' (29 feb2012) पिछले दो दिन मे रिमपी मुझसे एक ही सवाल कई बार कर चुका था । '' तू एक ही लड़की पर ही रुक कर क्यू रह गया है ,और क्यू इतना समय बर्बाद कर रहा है '' और मैंने कोई

continue reading

sl.num.014(2) लगभग 5से6 सेकंड का आई कांटैक्ट था mishra’s lover

sl.num.14(2)                          22feb2012 आखिर हुमे अपनी कराटे क्लास भी तो जानी थी।क्लास पहुंचे तो पाता चला हम पूरे पाँच मिनट लेट थे।ड्रेस चेंज किया ।क्लास मे एंट्री कि उसके बाद मे सेनसाई(कराटे गुरु )ने इनाम के तोर पर बड़ी खातिरदारी कि और

continue reading

sl,num.014(1) चाँद… क्यूंकी मुझे उसका नाम नहीं पता mishra’s lover

sl.num.14(1).         22feb2012 उस दिन जो भी खयाल आए ,अब उन पर काम करने का समय आया । जैसा की मुझे already पता है, की बो (चाँद... क्यूंकी मुझे उसका नाम नहीं पता ) 5-6 कोचिंग पढ़ने जाती है, पर कहा और किस पर ऐसा कुछ नई पता सिर्फ कही

continue reading

sl.num.013 वो चाँद से चेहरे वाली mishra’s lover

sl.num.13           feb 2012 मैंने अपने दोपहर का आखिरी बैच खत्म किया । उसके बाद मुझे अपनी 5 बजे karate क्लास जानी होती थी । और अभी सिर्फ 4 ही बजे थे। मेरा एक 10 क्लास का स्टूडेंट था ..... शादान खान।अच्छा बच्चा था स्मार्ट,क्यूट और इंटेलिजेंट।उस दिन शादान मुझसे बोला,की

continue reading

sl.num.012 डेढ़-दो साल flash-back मे गया था mishra’s lover

sl॰ num.12 जिंदगी इन दिनो कुछ स्थिर सी हुयी। रोज का समय सारिणी भी लगभग एक जैसी ही होती थी। क्यूंकी ट्यूसन पढ़ाने और पढ़ने मे ही पूरा दिन फुर्र हो जाता ।दिवाली भी आने वाले थी । और दिवाली आने से पहले ही एक और घटना मेरे साथ घटित हुयी, पर उसका मे

continue reading