Home > sl.num 31-40

sl.num.038 वो मेरे लिए मेरी सबसे अच्छी दोस्त थी

sl.num.38........ उसी रात लगभग 2 बजे जब मे train के लिए निकल रहा था ,मम्मी ने मुझे कुछ पैसे दिये ,कहा कि तेरे खर्चे के लिए हो जायेंगे ,लेकिन मैंने हसते हुये लेने से मना कर दिया। मम्मी को भी पता था कि में नही लूँगा ,फिर भी उन्होने अपना फर्ज निभाया

continue reading