Home > Uncategorized (Page 2)

sl.num.008 लड़को के पास दो ही तो टॉपिक होते है mishra’s lover

serial no.8.                               05:45 pm हर रोज की तरह मे उस शाम को भी रिमपी के घर पहुंचा । बो अभी तक सो ही रहा था । मैंने जा कर उसको उठाया । कुछ थोड़ी देर के बाद

continue reading

sl.num.007 ”शायद जानती है तुझे ” mishra’s lover

sl.num.007 ''शायद जानती है तुझे '' ओये सुन रिमपी जो भी करना है आधे घंटे के अंदर अपने सारे काम खत्म कर लियो । फिर घर चलते है , और तू जहां कही भी है मे तुझे बाहर ही मिलुंगा साइकल स्टैंड के सामने वाले रूम मे, ठीक है , कॉल कर

continue reading